क्रिकेटखेल समाचार

टी-20 विश्वकप में सर्वाधिक स्कोर बनाने वाली टॉप-5 टीमें

अभी तक आईसीसी टी-20 विश्वकप के 6 सीजन खेले जा चुके हैं। जिसमें वेस्टइंडीज एकमात्र ऐसी टीम है जिसने दो बार खिताब पर कब्जा किया है। साल 2012 और 2016 में डैरेन सैमी की कप्तानी में टीम ने खिताब पर कब्जा किया था।

इस साल टी-20 विश्वकप ऑस्ट्रेलिया में खेला जाना है और टूर्नामेंट की शुरआत 18 अक्टूबर को होगी जबकि फाइनल मैच 15 नवंबर को मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में खेला जाएगा। लेकिन कोरोना महामारी के कारण टी-20 विश्वकप को लेकर कई अटकले बनी हुई है, ऐसे में इस बार विश्वकप को स्थगित भी किया जा सकता है।

टी-20 विश्वकप के अबतक 6 टूर्नामेंट खेले जा चुके है, जिसमें कई रिकॉर्ड बनाए गए है। लेकिन इस लेख से आप उन टॉप-5 टीमों के बारे में जान सकते है जिन्होंने टी-20 विश्वकप में सर्वाधिक स्कोर बनाया हैं।

1. श्रीलंका बनाम केन्या (2007 टी-20 विश्वकप)

आईसीसी टी-20 विश्वकप का पहला संस्करण दक्षिण-अफ्रीका में खेला गया था। जहां टूर्नामेंट के 8वें मैच में श्रीलंका और केन्या की टीम आमने-सामने थी। टॉस जीतकर केन्या ने फिल्डिंग का फैसला किया जो की उनके लो बहुत गलत साबित हुआ। क्योंकि उसके बाद जो श्रीलंका की टीम ने किया वह अबतक विश्व रिकॉर्ड हैं। श्रीलंका ने उस मैच में 6 विकेट के नुकसान में 260 रन बनाए। जिसमे सनथ जयसूर्या की (44 गेंदों में 88) और महेला जयवर्धने की (27 गेंदों में 65) रन की पारी शामिल थे। केन्या को इस मैच में 172 रनों से हार का सामना करना पड़ा था।

2. इंग्लैंड बनाम दक्षिण अफ्रीका (2016 टी-20 विश्वकप)

2016 टी-20 विश्वकप के 18वें मैच में इंग्लैंड और दक्षिण-अफ्रीका की टीम मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में आमने-सामने थी। टॉस जीतकर इंग्लैंड की टीम ने पहले गेंदबाजी का फैसला किया। पहले बल्लेबाजी करने उतरी दक्षिण-अफ्रीका की टीम ने 20 ओवर में 4 विकेट के नुकसान में 229 रन बनाए। जिसमे हाशिम आमला, क्विंटन डी कॉक और जेपी डुमिनी की अर्धशतक पारियां शामिल थी।

पहली इनिंग के बाद ऐसा लगने लगा कि अब मैच में कुछ बाकि नहीं रहा क्योंकि उस समय दक्षिण-अफ्रीका के पास टूर्नामेंट की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी थी। जिसमें डेल स्टेन, कगिसो रबाडा और इमरान ताहिर जैसे गेंदबाज शामिल थे।

लेकिन इंग्लैंड की निचले क्रम तक की बल्लेबाजी के सामने यहां 230 रनों का लक्ष्य छोटा नजर आया और टीम ने दो गेंदे शेष रहते मैच जीता। इंग्लैंड की टीम से (जो रूट ने 83) और (जेसन राय ने 43) रन की पारी खेली।

3. दक्षिण अफ्रीका बनाम इंग्लैंड (2016 टी-20 विश्वकप)

जैसे की 2016 टी-20 विश्वकप के 18वें मैच में दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड की टीम सामने थी। इस मैच की दूसरी पारी में इंग्लैंड ने टी-20 विश्वकप का दूसरा सर्वाधिक स्कोर बनाया था, जहां टीम ने 230 रनों के लक्ष्य का पीछा किया था। वही दक्षिण अफ्रीका ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 229 रन बनाए थे। जो की टी-20 विश्वकप के इतिहास का तीसरा सबसे बड़ा स्कोर हैं।

4. भारत बनाम इंग्लैंड (2007 टी-20 विश्वकप)

यह मैच 2007 टी-20 विश्वकप का 21वां मैच था। जहां डरबन में भारत और इंग्लैंड की टीम आमने-सामने थी। टॉस जीतकर भारत ने पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। जहां टीम के ओपनरों ने भारत को एक शानदार शुरुआत दिलाई और वीरेंद्र सहवाग और गौतम गंभीर ने पहले विकेट के लिए 136 रन जोड़े। मैच में बाकि जो कसर बची थी उसे युवराज सिंह ने पूरी कर दी। क्योंकि यह वही मैच था जहां युवराज सिंह ने 6 गेंदो पर 6 छक्के लगाए थे। युवराज सिंह ने इस मैच में (16 गेंदों में 58) रन की पारी खेली थी, जिसकी बदौलत टीम 218 के विशाल स्कोर तक पहुंच पाई।

219 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड की टीम ने आखिरी तक हार नहीं मानी। और मैच के बहुत करीब पहुंचकर टीम को 18 रन से हार का सामना करना पड़ा।

5. दक्षिण अफ्रीका बनाम स्कॉटलैंड ( 2009 टी-20 विश्वकप)

यह 2009 आईसीसी टी-20 विश्वकप का 5वां मैच था। जहां द ओवल क्रिकेट ग्राउंड में स्कॉटलैंड की टीम ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। बल्लेबाजी करने उतरी अफ्रीका की टीम ने 5 विकेट के नुकसान में 211 रन बनाए। जिसमें एबी डिविलियर्स की (34 गेंदों में 79) रन की नाबाद पारी शामिल थी।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी स्कॉटलैंड की टीम का इस स्कोर के पार पहुंचना बहुत मुश्किल था और टीम मात्र 81 रन के स्कोर पर ढेर हो गई। उनकी टीम से काइल कोएट्जेर ने सर्वाधिक 42 रन की पारी खेली थी।

Tags
Show More

ankur patwal

Sports Journalist

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Back to top button
Close
Close

Adblock Detected

If you like our content kindly support us by whitelisting us Adblocker.