खेल समाचार

तकनीक से खेल जगत के बदलते आयाम

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस का असर लगभग हर क्षेत्र में देखा जा रहा है। टोक्यो ओलंपिक्स, कोपा अमरीका, रोजर्स कप, विमब्लेन्डन टेनिस चैंपियनशिप जैसे प्रमुख और चर्चित खेल जो 2020 में होने थे उन्हें 2021 तक के लिए स्थगित कर दिया गया है।

लॉक डाउन के कारण स्कूल कॉलेज फैक्ट्रियां व अन्य कई सार्वजनिक स्थानों को बंद किया गया है जिस कारण डिजिटल माध्यम से हो पाने वाले सभी कार्यों ने गति पायी है। वर्क फ्रॉम होम और स्टडी फ्रॉम होम जैसे अभियानों ने महामारी द्वारा आम जन जीवन पर लगाए अंकुश को तकनीक की सहायता से चुनौती दी है।

डिजिटल व ऑनलाइन प्लेटफार्म पर सक्रियता दिखाने में खेल जगत भी पीछे नहीं रहा है। हाल ही में हुई इंटरनेशनल ऑनलाइन शूटिंग चैंपियनशिप ने खेल जगत में आधुनिक और तकनीकी विकासों के महत्व में इतिहास रचा है।

9 मई को इस चैंपियनशिप का तीसरा सीज़न खेला गया जिसमे लगभग 50-100 शूटरों ने भाग लिया। ज़ूम प्लेटफार्म पर खेली गयी इस प्रतियोगिता में सभी प्रतियोगीयों को अपनी लोकेशन से लॉगिन कर इलेक्ट्रॉनिक टारगेट को शूट करना था जिसकी स्क्रीन सभी उपस्थित कोच व रेफरी से साझा की गयी जिससे स्कोरिंग की जा सके।

यशस्विनी देसवाल और रुद्रांकक्ष पाटिल ने 10 मीटर एयर राइफल और 10 मीटर एयर पिस्टल में जीत दर्ज की। इस चैंपियनशिप का मौलिक विचार पूर्व भारतीय शूटर शिमोन शरीफ द्वारा प्रस्तुत किया गया था। शिमोन ने सफलतापूर्वक चैंपियनशिप के तीनों सीज़न सम्पन्न करवाए। जहां कोरोना महामारी ने मैदान पर खेल गतिविधियों को प्रभावित किया है ऐसे में तकनीक तारणहार बन कर उभरी है और तकनीकी मंचो पर उपलब्ध हो रहे मुकाबले खेलों की दुनिया को एक नया आयाम दे रहे हैं।

Tags
Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Back to top button
Close
Close

Adblock Detected

If you like our content kindly support us by whitelisting us Adblocker.