क्रिकेट

जोंटी रोड्स के बेहतरीन रन आउट को 29 साल हुए पूरे, इंजमाम उल हक को आउट कर बदला था मैच का रूख

दक्षिण अफ्रीका के विश्व कप के पांचवें मैच के बाद रोड्स को प्रसिद्धि मिली, 8 मार्च 1992 में पाकिस्तान के खिलाफ शानदार फिल्डिंग का नज़ारा दिखाते हुए रोड्स ने सेट बल्लेबाज इंजमाम-उल-हक को आउट किया।

जोंटी रोड्स एक दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेट कमेंटेटर, पूर्व टेस्ट और एक दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेटर हैं। उन्हें विश्व क्रिकेट का सर्वकालिक महान फील्डर माना जाता है।

जोंटी रोड्स का टेस्ट करियर

रोड्स ने अपना टेस्ट डेब्यू भारत के खिलाफ 13 नवंबर 1992 में अपने होम ग्राउंड डरबन में किया था। उन्होंने पहले पारी में 41 और दूसरी पारी में 26 रन की नाबाद पारी खेली थी।

रोड्स ने अपना पहला टेस्ट शतक श्रीलंका के खिलाफ खेली गई तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के पहले मैच में जड़ा था। 1993-94 सीजन की उस सीरीज में आखिरी दिन बल्लेबाजी करते हुए रोड्स ने 101 रन की पारी खेल मैच को ड्रॉ करवाया था।

रोड्स ने अपना आखिरी टेस्ट मैच साल 2001 में श्रीलंका के खिलाफ खेला था। रोड्स ने अपने आखिरी टेस्ट मैच की पहली और दूसरी पारी में 21 और 54 रन की पारी खेली थी। यह मैच श्रीलंका की टीम ने 6 विकेट से जीता था।

जोंटी रोड्स का वनडे करियर

रोड्स ने अपना वनडे डेब्यू 26 फ़रवरी 1992 के दिन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ किया था। इस दिन दक्षिण अफ्रीका की टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपने विश्वकप अभियान की शुरूआत कर रही थी।

इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए ऑस्ट्रेलिया ने 170 रन बनाए थे और रोड्स ने इस मैच में क्रेग मैकडरमोट को रन आउट किया था। दक्षिण अफ्रीका ने इस मैचों को 9 विकेट से जीता था, जिसमें रोड्स को बल्लेबाजी नहीं मिली थी।

दक्षिण अफ्रीका के विश्व कप के पांचवें मैच के बाद रोड्स को प्रसिद्धि मिली, 8 मार्च 1992 में पाकिस्तान के खिलाफ शानदार फिल्डिंग का नज़ारा दिखाते हुए रोड्स ने सेट बल्लेबाज इंजमाम-उल-हक को आउट किया।

वो रन ऑट जिससे जोंटी रोड्स का विश्व क्रिकेट में हुए थे प्रसिद्ध
वो रन ऑट जिससे जोंटी रोड्स का विश्व क्रिकेट में हुए थे प्रसिद्ध

उस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए अफ्रीकी टीम ने 211 रन बनाए। बारिश के कारण पाकिस्तान को 36 ओवरों में 194 रनों का लक्ष्य मिला। बारिश आने से पहले इंजमाम और इमरान खान 135/2 पर क्रीज में जमे हुए थे। इंजमाम उस समय 48 रन के स्कोर पर थे और मैच दक्षिण अफ्रीका की टीम की पकड़ से बाहर जा रहा था।

लेकिन उस अहम समय पर जोंटी रोड्स के रन आउट ने पूरा मैच पलट के रख दिया। रोड्स ने अपनी पूरी बॉडी को स्ट्रैच कर एक शानदार डाइव लगाते हुए इंजमाम-उल-हक को रन आउट किया था।

इस रन आउट की बदौलत अफ्रीकी टीम ने यह मैच 20 रन से जीता और पाकिस्तान की टीम 36 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर केवल 173 रन ही बना सकी।

14 नवंबर 1993 के दिन रोड्स ने विश्व रिकॉर्ड बनाया, एक फील्डर के तौर पर वह एक मैच में 5 कैच लेने वाले पहले खिलाड़ी बन गए थे।

रोड्स ने 2003 एकदिवसीय विश्वकप खेलने के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यांस लेने के बारे में सोच लिया था। लेकिन वह अपने आखिरी विश्वकप में टूर्नामेंट के बीच में ही बाहर हो गए। वह केन्या के खिलाफ मैच में कैच लपकने के दौरान चोटिल हो गए थे। जिससे उनका हाथ फ्रैक्चर हो गया था। जिसके बाद उन्हें टूर्नामेंट बीच में ही छोड़ना पड़ा और ग्रीम स्मिथ को टीम में जगह मिली।

Tags
Show More

ankur patwal

Sports Journalist

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close

Adblock Detected

If you like our content kindly support us by whitelisting us Adblocker.