क्रिकेटवीडियो
trending

Video: इंग्लिश बार्मी आर्मी का भारतीय टीम पर तंज कसना पड़ा महंगा! भारतीय क्रिकेट फैंस ने दिया मुंहतोड़ जवाब..

बार्मी ग्रुप ने सोशल मीडिया पर वीडियो साझा किया। उन्होंने लिखा कि हम हर भारतीय क्रिकेट प्रशंसक से बस यही कहना चाहते हैं कि जिम्मी एंडरसन आपके लिए संकट के बादल की तरह हैं। एंडरसन वर्ल्ड में सबसे ज्यादा 614 टेस्ट विकेट लेने वाले तेज गेंदबाज हैं। ओवरऑल वे सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले चौथे गेंदबाज हैं।

भारतीय क्रिकेट टीम को अगस्त में इंग्लैंड से उसी के घर में 5 मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी है। भारत के इंग्लैंड दौरे में अभी लगभग दो महीने से ज्यादा का समय बाकी है, लेकिन सोशल मीडिया पर दोनों टीमों को लेकर हलचल शुरू हो चुकी है। बता दें कि भारतीय और इंग्लैंड के प्रशंसकों के बीच ट्रोलिंग के साथ एक मुद्दा काफी गरमाया हुआ है।

दरअसल, इंग्लैंड के एक बार्मी आर्मी ग्रुप ने टीम इंडिया पर तंज कसा है। उन्होंने टीम इंडिया के दो खिलाड़ी शुभमन गिल और अजिंक्य रहाणे को क्लीन बोल्ड करते हुए जेम्स एंडरसन का वीडियो साझा किया। साथ ही लिखा कि एंडरसन इस बार टीम इंडिया पर संकट के बादल साबित होंगे। बार्मी ग्रुप के द्रारा सोशल मीडिया पर साझा किए गए वीडियों में उन्होंने आगे लिखा कि हम हर भारतीय क्रिकेट प्रशंसक से बस यही कहना चाहते हैं कि जिम्मी एंडरसन आपके लिए संकट के बादल की तरह हैं।

इसके जवाब में भारतीय क्रिकेट फैंस ने एक वीडिया साझा किया। जिसमें ऋषभ पंत ने जेम्स एंडरसन के गेंद पर शानदार रिवर्स स्वीप मारा और चौका जरा ।

मालूम हो कि इंग्लैंड टीम इसी साल फरवरी में भारत दौरे पर आई थी। इस सीरीज में टीम इंडिया ने 3-1 से सीरीज अपने नाम की थी। इस सीरीज का पहला मैच चेन्नई में खेला गया था, जिसमें इंग्लैंड ने 227 रन से जीत दर्ज की थी। इसी टेस्ट की दूसरी पारी में इंग्लिश तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन ने पारी के 27वें ओवर में शुभमन गिल और अजिंक्य रहाणे को क्लीन बोल्ड किया था। यह वही वीडियो है। एक तरफ जहां इंग्लैंड की टीम इस हार का बदला लेना चाहेगी। वहीं भारतीय खिलाड़ी भी विदेश में अपना परचम लहराने में कोई कसर नहीं छोड़ेगें।

Tags
Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Back to top button
Close
Close

Adblock Detected

If you like our content kindly support us by whitelisting us Adblocker.