खेल समाचार

देखें, पांच ऐसे खिलाड़ी जो सन्यांस के बाद राजनीति में बिखेर रहे हैं अपनी चमक

खेल एक ऐसी विधा हैं, जिसमें सफलता का मतलब हैं बेशुमार दौलत और शोहरत। खेल में सफलता पाने के बाद किसी भी खिलाड़ी का जीवन पूरी तरह बदल जाता हैं।  खिलाड़ी अपने बेहतरीन प्रदर्शन के बल पर जनता के दिलों में अपनी जगह बना लेते  हैं और जनता उनके लिए कुछ भी करने को तैयार रहती हैं।

अधिकतर खिलाड़ी खेल जीवन से संन्यास के बाद अपने खेल से जुड़ी गतिविधियों या फिर व्यवसाय में व्यस्त हो जाते हैं। लेकिन कई ऐसे भी खिलाड़ी हैं जिन्होंने खेल से संन्यास के बाद राजनीति में हाथ आजमाया और अपने खेल के दिनों में कमाई हुई जबरदस्त प्रसिद्धि को भुनाते हुए आज वे एक सफल राजनेता बनने की राह पर हैं। आइये हम आपको उन पांच खिलाडियों के बारे में बताते हैं जो खेल से संन्यास लेने के बाद राजनीति में अपनी चमक बिखेर रहे हैं-

राज्यवर्धन सिंह राठौड़

 राज्यवर्धन सिंह राठौड़ वर्तमान में  जयपुर ग्रामीण सीट से भाजपा सासंद है।
शूटर से लेकर राजनीति तक का सफर

राज्यवर्धन सिंह राठौड़  भारत के अबतक के सबसे सफलतम शूटर रहे है। भारतीय आर्मी से कर्नल के पद से रिटायर्ड होने वाले राठौड़ 2004 में तब पूरे विश्व में छा गए थे जब उन्होंने एथेंस ओलम्पिक में डबल ट्रैप शूटिंग में भारत को पहली बार सिल्वर मेडल जितवाया था। इसके अलावा वह कई अंतर्राष्ट्रीय शूटिंग प्रतियोगिताओं में भारत को 25 से ज्यादा मेडल जीता चुके है, जिसमें राष्ट्रमंडल खेल भी शामिल हैं।

2013 में भारतीय सेना से रिटायर्ड होने के बाद राठौर ने भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर जयपुर ग्रामीण से लोकसभा चुनाव लड़ा और विजयी हुए। जिसके बाद वह नरेंद्र मोदी सरकार में केंद्रीय खेल राज्यमंत्री बनाए गए थे। वह वर्तमान में जयपुर ग्रामीण सीट से भाजपा सासंद है और राजस्थान में भाजपा के नई पीढ़ी के कद्दावर नेताओं में गीने जाते हैं। 

नवजोत सिंह सिद्धू

नवजोत सिंह सिद्धू का क्रिकेट से लेकर राजनीति तक का सफर जानिए।
क्रिकेट से लेकर राजनीति तक का सफर

नवजोत सिंह सिद्धू भारतीय क्रिकेट टीम के विस्फोटक सलामी बल्लेबाज रहे हैं। भारत की तरफ से 51 टेस्ट मैचों में 3202 और 136 वनडे मैचों में 4413 रन बनाने वाले सिद्धू ने साल 1999 में क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद मनोरंजन और राजनीति दोनों ही क्षेत्रों में हाथ आजमाया और बोलने की शानदार शैली के कारण दोनों ही क्षेत्रों में जबरदस्त सफलता पाई।

सिद्धू ने 2004 में भारतीय जनता पार्टी ज्वाइन की और अमृतसर से लोकसभा चुनाव लड़ा और अपने पहले चुनाव में जीत हासिल की। वह 2014 तक अमृतसर से भाजपा के सांसद रहे। 2016 में उन्हें राज्य सभा का सांसद भी बनाया गया था लेकिन 2017 में उन्होंने भाजपा छोड़कर कांग्रेस का दामन थाम लिया था। वह पंजाब सरकार में मंत्री भी रह चुके हैं। जबरदस्त भाषण देने की कला के कारण सिद्धू देशभर में काफी लोकप्रिय हैं।

गौतम गंभीर

गौतम गंभीर ने क्रिकेट से सन्यांस लेने के बाद बीजेपी से चुनाव लड़ा था और वह वर्तमान में पूर्व दिल्ली लोकसभा सीट से भाजपा सांसद हैं।
क्रिकेट से लेकर राजनीति तक का सफर

भारतीय क्रिकेट टीम को 2007 में टी- 20 विश्वकप और 2011 में वनडे विश्वकप दिलाने में अहम भूमिका निभाने वाले बाएं हाथ के बेहतरीन बल्लेबाज गौतम गंभीर ने क्रिकेट से संन्यास के बाद राजनीति का दामन थाम लिया था और वर्तमान में वह पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीट से भाजपा सांसद हैं। क्रिकेट के दिनों में गंभीर और विश्वसनीय बल्लेबाज माने जाने वाले गौतम वर्तमान में भाजपा के युवा नेताओं में सबसे मुखर चेहरा माने जाते हैं।

संदीप सिंह

भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कप्तान संदीप सिंह वर्तमान में हरियाणा के खेल मंत्री हैं।
हॉकी से लेकर राजनीति तक का सफर

भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कप्तान संदीप सिंह ने 2019  में भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर हरियाणा विधानसभा चुनाव लड़ा और विजयी रहे। वर्तमान में वह  हरियाणा राज्य के खेल मंत्री हैं।

4- प्रसून बनर्जी

भारतीय फुटबॉल टीम के पूर्व कप्तान प्रसून बनर्जी पश्चिम बंगाल में हावड़ा लोकसभा सीट से सांसद है।
फुटबॉल से लेकर राजनीति तक का सफर

भारतीय फुटबॉल टीम के पूर्व कप्तान प्रसून बनर्जी पश्चिम बंगाल की सत्ताधारी पार्टी तृणमूल कांग्रेस के महत्वपूर्ण सदस्य हैं तथा हावड़ा लोकसभा सीट से सांसद है। अर्जुन पुरस्कार विजेता प्रसून जोशी भारतीय फुटबॉल टीम के ऐसे पहले खिलाडी हैं, जो लोकसभा के सदस्य बने ।

Tags
Show More

Pankaj Kumar

स्वतंत्र लेखक

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Back to top button
Close
Close

Adblock Detected

If you like our content kindly support us by whitelisting us Adblocker.