क्रिकेटखेल समाचार

भारत की पहली महिला खिलाड़ी जिसने घरेलू मैचों में लगाया है दोहरा शतक

स्मृति मंधाना का जन्म 18 जुलाई, 1996 में मुंबई में हुआ था। बाएं हाथ की सुपरस्टार खिलाड़ी ने अपने पिता और भाई को देखकर क्रिकेट खेलना शुरू किया। मंधाना के पिता और भाई ने सांगली के लिए DISTRICT LEVEL पर क्रिकेट खेली हैं।

बचपन से अपनी आंखों के सामने क्रिकेट देखती नजर आ रही स्मृति मंधाना ने भी उसके बाद भारत के लिए क्रिकटे खेलने की ठान ली। और महज 9 साल की उम्र में वह महाराष्ट्र की अंडर-15 टीम के लिए चुनी गई।

उसके बाद महाराष्ट्र की अंडर-19 टीम में जगह बनाने के लिए मंधाना को ज्यादा समय नहीं लगा और 11 साल की उम्र में उन्हें टीम में जगह मिली।

बाएं हाथ की महिला खिलाड़ी को सबसे बड़ा breakthrough साल 2013 में मिला, जब वह domestic में दोहरा शतक लगाने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी बनी। महाराष्ट्र के लिए गुजरात के खिलाफ खेलते हुए मंधाना ने 150 गेंदों में 224 रन की नाबाद पारी खेली थी।

स्मृति मंधाना के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर की बात करें, तो महिला खिलाड़ी ने अपना टेस्ट डेब्यू इंग्लैंड, और वनडे व टी-20 डेब्यू बांग्लादेश के खिलाफ किया था।

अपने दूसरे ही वनडे मैच में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ स्मृति मंधाना ने 109 गेंदों में 102 रन की पारी खेली थी, हालांकि टीम को इस मैच में हार का सामना करना पड़ा।

स्मृति मंधाना भारतीय महिला क्रिकेट टीम से सबसे तेज टी-20 अर्धशतक ठोकने वाले खिलाड़ी भी रही है। उन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ 2019 में 24 गेंदों में अर्धशतक जड़ा था।

मंधाना वर्ष 2016 की ICC महिला टीम में नामित होने वाली एकमात्र भारतीय खिलाड़ी है।

जून 2018 में, भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने स्मृति मंधाना को सर्वश्रेष्ठ महिला अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेटर के रूप में चुना। वहीं उसके बाद साल के अंत में मंधाना को आईसीसी द्वारा ODI प्लेयर ऑफ द ईयर भी नामित किया गया।

फरवरी 2019 में, इंग्लैंड के खिलाफ भारतीय महिला टीम की अगुवाई करते हुए मंधाना भारत के लिए सबसे कम उम्र में टी-20 मैच में कप्तानी करने वाली खिलाड़ी बनी।

Tags
Show More

ankur patwal

Sports Journalist

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Back to top button
Close
Close

Adblock Detected

If you like our content kindly support us by whitelisting us Adblocker.